Breaking News

गोल्ड लोन कैसे मिलता हैं ? गोल्ड लोन के ब्याज दर, नियम व् फायदे, Gold Loan Process – 2022

3.7/5 - (12 votes)

क्या है गोल्ड लोन?

गोल्ड लोन एक प्रकार का लोन हैं जिसमे हम अपने सोने के आभूषण या अन्य गोल्ड को बैंक, एनबीएफसी या किसी अन्य वित्तीय संस्थान में गिरवी रख कर लोन लेते हैं | सोने को हाई लिक्विडिटी (अधिक तरलता ) वाला माना जाता हैं जिसे तुरंत बेच कर हम पैसे प्राप्त कर सकते हैं | गोल्ड की इसी विशेषता के कारण बैंक, एनबीएफसी व् अन्य वित्तीय संस्थान आसानी से गोल्ड लोन उपलब्ध कराती हैं, गोल्ड लोन शत प्रतिशत सिक्योर्ड लोन होता हैं इसलिए इसका ब्याज दर भी अन्य प्रकार के लोन की अपेक्षा कम लगता हैं | गोल्ड लोन आप अपनी किसी भी जरुरत जैसे व्यक्तिगत आवश्यकता, कृषि कार्य हेतु, मेडिकल इमरजेंसी, हायर एजुकेशन, वेकेशन, शादी-व्याह, घर की मरम्मत, कोई डाउन पेमेंट या अन्य कोई आपात स्थिति आदि के लिए कर सकते हैं | गोल्ड लोन एक सिक्योर्ड लोन होने के कारण इसकी प्रक्रिया बहुत ही कम समय में पूरी हो जाती है, गोल्ड लोन के लिए डॉक्यूमेंटेशन भी बहुत जल्दी हो जाता हैं | गोल्ड लोन आपके  सोने के आभूषण या अन्य गोल्ड की गुणवत्ता और मार्केट वैल्यू के आधार पर मुल्यांकन करके मिलता है, सामान्यतः यह मार्केट वैल्यू के 75 प्रतिशत तक आसानी से मिल जाता है | यह एक अल्प कालिक लोन हैं, इसका ब्याज दर पर्सनल लोन से बहुत कम होता हैं,  गोल्ड लोन एक फ्लेग्जिबल लोन हैं इसमें आपको टर्म लोन (TL), ओवर ड्राफ्ट (OD) या कॅश क्रेडिट (CC) की सुविधा अपने जरुरत के अनुसार ले सकते हैं |

गोल्ड लोन कैसे मिलता है ?

गोल्ड लोन लेने के किये आपको अपने नजदीकी बैंक या एनबीएफसी में जा कर अपने साथ अपने गोल्ड या सोने (जैसे की सोने के आभूषण, ज्वेलरी या सिक्के आदि ) को ले जाना पड़ता हैं | इसके बाद बैंक या एनबीएफसी से अनुबंधित सुनार (Gold Assyer)  और अधिकारी आपके सोने की गुणवत्ता और वजन के आधार पर उसी दिन की मार्केट वैल्यू निकालते हैं | कोविड -19 महामारी की वजह से अब कुछ एनबीएफसी और बैंकों ने गोल्ड लोन की सुविधा आपके घर आ कर दे रहे हैं, गोल्ड लोन की सारी प्रक्रिया आपके अपने घर पर ही की जाती हैं | गोल्ड लोन के लिए आप एनबीएफसी और बैंकों की अधिकारिक वेबसाइट पर जा कर ऑनलाइन अप्लाई भी कर सकते हैं और अपने अनुसार अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं |

कैसे निकाली जाती है आपके गोल्ड की मार्केट वैल्यू?

आप अपने नजदीकी बैंक या एनबीएफसी, जहाँ से आप गोल्ड लोन की सुविधा लेना चाहते हैं, वहाँ पर जा कर सबसे पहले आपके गोल्ड की शुद्धता की जाँच बैंक या एनबीएफसी से अनुबंधित सुनार (Gold Assyer) के द्वारा की जाती हैं, गोल्ड की शुद्धता की जाँच के साथ साथ उसका वजन भी किया जाता हैं,  वजन व् शुद्धता जानने के बाद आपके गोल्ड की उसी तारीख की  मार्केट वैल्यू ली जाती हैं, इसी मार्केट वैल्यू के आधार पर अनुबंधित सुनार (Gold Assyer) एक प्रमाणित सर्टिफिकेट या पेपर पर आपके गोल्ड की वैल्यू को बैंक या एनबीएफसी अधिकारी को दे देता हैं, हालाँकि इस पूरी प्रक्रिया में अधिकारी हमेशा रहता हैं | आपके गोल्ड ज्वेलरी में सिर्फ आपके गोल्ड की वैल्यू ली जाएगी, किसी भी प्रकार के रत्न या टाँका आदि की वैल्यू नहीं जोड़ते हैं, बैंक या आरबीआई द्वारा जारी 24 केरेट के सोने के सिक्के पर भी गोल्ड लोन ले सकते हैं | सोना या गोल्ड के वैल्यू दैनिक (Daily) मार्केट में बदलती रहती हैं, इसलिए जिस दिन आप गोल्ड लोन लेते हैं उसी दिन की वैल्यू ली जाती हैं |

गोल्ड लोन के लिए किन डॉक्यूमेंट्स की है आवश्यकता?

गोल्ड लोन लेने के लिए आपको अपने पहचान व् परिचय सम्बन्धी डाक्यूमेंट्स जैसे पेन कार्ड, आधार कार्ड, बिजली या टेलीफोन बिल, किराये से रहने वालो के लिए किरायानामा (रेंट अग्रीमेंट ) आदि की आवश्यकता होती हैं , कुछ बैंक व् अन्य संसथान आपसे आपकी आय संबंधी डाक्यूमेंट्स भी ले सकते हैं ,यदि पर कृषि गोल्ड लोन लेते हैं तो आपको कृषि सम्बन्धी डाक्यूमेंट्स जैसे खसरा, खतौनी आदि देने होते हैं |

क्या कभी विशेष अवसर पर गिरवी रखे गोल्ड आभूषण को कुछ समय के लिए ले सकते हैं ?

कुछ प्राइवेट बैंक व् एनबीएफसी ने हाल ही में गोल्ड लोन के ग्राहक को ये सुविधा दी हैं की वो कुछ सिक्योरिटीज या एक्स्ट्रा पैसे ले कर गिरवी रखे गोल्ड आभूषण को कुछ समय के लिए दे सकते हैं, जिससे की आप शादी विवाह या अन्य विशेष अवसर पर अपने गोल्ड आभूषण को पहन सकते हैं | अगर आप को इस तरह की सुविधा चाहिए हैं तो गोल्ड लोन लेने से पहले बैंक व् एनबीएफसी से कन्फर्म कर ले |

गोल्ड लोन लेने के लिए कितनी फीस या शुल्क लगता हैं ?

गोल्ड लोन लेने पर सबसे पहले आपको गोल्ड वैल्यूएशन फीस देनी पड़ती हैं, यह फीस गोल्ड लोन की राशि मिलने से पहले चुकानी होती हैं, उसके बाद बैंक या एनबीएफसी की लोन प्रोसेसिंग फीस लगती हैं जो 1.5 % से लेकर 2.5 % तक हो सकती हैं, गोल्ड लोन के डाक्यूमेंट्स वैधता (वेलिडेशन) के लिए अलग अलग राज्य के हिसाब से स्टाम्प चार्जेज भी लगते हैं | किसान गोल्ड लोन पर प्रोसेसिंग फीस और स्टाम्प चार्जेज कुछ राशि तक के लिए नहीं लिया जाता हैं |

गोल्ड लोन कि ब्याज दर कितनी होती हैं ?

अलग अलग बैंक व् एनबीएफसी कि ब्याज दर भी अलग अलग होती हैं, लेकिन गोल्ड लोन कि ब्याज दर पर्सनल लोन, बाइक लोन व् कार लोन से कम होती हैं, गोल्ड लोन कि ब्याज दर लोन की राशि पर भी निर्भर करती हैं, अगर राशि कम हैं तो गोल्ड लोन का ब्याज थोडा कम रहेगा यदि लोन कि राशि अधिक हैं तो ब्याज दर अधिक होगी क्यूंकि अधिक राशि के लोन पर रिस्क भी अधिक हो जाता हैं | किसान गोल्ड लोन स्कीम के तहत अगर किसी ने गोल्ड लोन लिया हैं तो उसके गोल्ड लोन कि ब्याज दर भी कम रहेगी, कुछ किसान गोल्ड लोन स्कीम में सरकार द्वारा सब्सिडी भी डी जाती हैं | सभी बैंकों व् एनबीएफसी  के लेटेस्ट गोल्ड लोन ब्याज दर जानने के लिए क्लिक करे

गोल्ड लोन कितने प्रतिशत % पर मिलता हैं ?

सामान्यतः गोल्ड लोन गोल्ड ज्वेलरी की मार्केट वैल्यू के 75% से 90% तक आपके गोल्ड ज्वेलरी की शुद्धता व् गुणवत्ता (कैरट) के हिसाब से मिलता हैं | ये बैंक व् एनबीएफसी द्वारा तय किया जाता हैं |

गोल्ड लोन के नियम क्या हैं ?

गोल्ड लोन के निम्नलिखित नियम हैं-
  • सबसे आप पहले कहीं से RBI द्वारा डिफाल्टर ना हों |
  • आपकी आपकी क्रेडिट रेटिंग (जैसे cibil, crif या equifax आदि) बैंक व् एनबीएफसी के नियम के अनुसार होनी चाहिए |
  • अधिक राशि के गोल्ड लोन के लिए आपकी लोन रेपयिंग कैपिसिटी भी बैंक व् एनबीएफसी के नियम के अनुसार होनी चाहिए |
  • आपके गोल्ड ज्वेलरी तय मानकों के अनुसार कैरट में होनी चाहिए (जैसे 18,20 या 22 कैरट).
  • आपकी ज्वेलरी में नग, टांके या अन्य आर्टिफिशियल आइटम्स का प्रयोग कम से कम होना चाहिए |
  • आपके डॉक्यूमेंटस पुरे होने चाहिए |
  • किसान गोल्ड लोन स्कीम के लिए आपकी खेती के डॉक्यूमेंटस पुरे होने चाहिए |
सभी जानकारी –

गोल्ड लोन नहीं चुकाने पर क्या होगा ?

अगर आप अपने गोल्ड लोन की समय से किश्त जमा नहीं करते हैं तो बैंक या एनबीएफसी हर माह पैनल इंटरेस्ट (अतिरिक्त ब्याज) चार्ज करते हैं जो 2% से अधिक लगता हैं, बैंक या एनबीएफसी द्वारा आपको रिमाइंडर या फॉलोअप भेजे जाते हैं, यदि आप गोल्ड लोन की किश्त 3 माह से अधिक समय से जमा नहीं की हैं तो आपना लोन एनपीए हो जायेगा, फिर आपको 15 दिन का अतिरिक्त समय ब्याज व् बकाया किश्त जमा करने के लिए दिया जायेगा, यदि फिर भी बकाया राशि नहीं चुकायी गयी तो बैंक या एनबीएफसी आपके गोल्ड का नीलामी (ऑक्शन) करा कर लोन की राशि वसूलते हैं | आपका गोल्ड लोन अगर एनपीए हो जाये तो आपकी क्रेडिट रेटिंग (जैसे cibil, crif या equifax आदि) पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और आपको आगे कोई भी लोन लेने में समयस्या आ सकती हैं |

गोल्ड लोन लेने के क्या फायदे हैं ?

  • गोल्ड लोन कि प्रक्रिया बहुत से कम समय में पूरी हो जाती हैं, पूरी प्रक्रिया कुछ ही घंटो में हो जाती हैं |
  • गोल्ड लोन कि ब्याज दर अन्य लोन कि अपेक्षा कम होती हैं |
  • गोल्ड लोन लेने के लिए बहुत कि कम डॉक्यूमेंटस की आवश्यकता होती हैं |
  • गोल्ड लोन कम समय के लिए किया जाता हैं, आप हाल कि जरुरत पूरी कर सकते हैं |
  • आपका गोल्ड ज्वेलरी बैंक या एनबीएफसी में सुरक्षित तरीके से रखा जाता हैं, जिससे आपको अपने गोल्ड ज्वेलरी कि सुरक्षा की चिंता नहीं करनी होती हैं |
दोस्तों आपको ये पोस्ट पसंद आयी है तो कमेंट करके जरूर बताएं | धन्यवाद् इन्हें भी पढ़े-

Check Also

manappuram gold loan rate per gram today, manappuram gold loan rate of interest, manappuram gold loan payment, manappuram gold loan processing fees

How to get Manappuram Gold Loan ? Scheme, Interest rates, Eligibility, Rate per Gram

Manappuram gold loan Manappuram Finance Limited is a Non-Banking Financial Company (NBFC) based in India. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

HDFC Xpress CarLoan Interest rate 2022 Hurricane Ian live tracker 2022